Loading Now
×

देवासी महाकुंभ का आगाज, जोधपुर में सियासी घमासान, क्या होगी समाज की मांगे ?

Dewasi Mahakhubh |Jodhpur

देवासी महाकुंभ का आगाज, जोधपुर में सियासी घमासान, क्या होगी समाज की मांगे ?

  देवासी महाकुंभ जोधपुर के रावण के चबूतरा मैदान में देवासी महाकुंभ ( dewasi mahakubh) का आयोजन किया जाएगा , यह आयोजन 27 अगस्त को होगा, 27 अगस्त के दिन राजस्थान के विभिन्न इलाकों में निवास करने वाली जाति जिसे राईका रबारी और देवासी ( Raika,Rabari,Dewasi) के नाम से जाना जाता है
9 जुलाई को मीटिंग हुई थी, देवासी महाकुंभ का आगाज हो चुका है, मीटिंग में लिए गए बड़े निर्णय, देशभर में पहली बार हो रहा है देवासी महाकुंभ में दो से तीन लाख से ज्यादा लोगों की भीड़ इकट्ठा होने की संभावना है
खबर को पूरी पढ़िए और जानिए महाकुंभ के लक्ष्य और और क्यों होने जा रहा है इतना बड़ा समेलन

जोधपुर – देवासी रबारी राईका समाज की ओर से 27 अगस्त को जोधपुर के रावण के चबूतरा मैदान में देवासी महाकुंभ का आयोजन किया जाएगा, पहली बार देवासी समाज का इतना बड़ा सम्मेलन हो रहा हूं जा रहा है जिसमें भारी तादाद यानी कि लाखों की संख्या में लोग पहुंचने की संभावना है, इस कार्यक्रम का नाम देवासी महाकुंभ ( dewasi mahakhubh) रखा गया है

इस महाकुंभ में राजस्थान के साथ-साथ भारत के विभिन्न इलाकों में रबारी समाज देवासी समाज के लोग पधारने वाले हैं, जिसमें मुख्यता गुजरात हरियाणा पंजाब और राजस्थान है


देवासी महाकुंभ के प्रमुख एजेंडा

(1)जो भी समाज बन्धु समाज सेवक बनकर काम करते है, वह अपनी सच्ची निष्ठा के साथ करे, ना की अपने निजी स्वार्थ के लिए।
(2)नशा मुक्त समाज :-यह सबसे ही हानिकारक है, आजकल इसका प्रभाव युवा पीढ़ी पर तेजी से बढ़ रहा है,,, यह घोर निंदनीय है,,इसके ऊपर समाज के गणमान्य लोगो द्वारा पूर्ण रुप से प्रतिबंध लगाना चाहिए।समाज इसके ऊपर सुझाव तय करे,, यह अतिआवश्यक है।
(3)शिक्षा:-यह भी जरुरी मुद्दा है ,लड़के-लड़कियों को भी पढ़ाने में भी समाज बन्धु समर्थन करे, अगर कोई गरीब है, वह अपने बच्चों को शिक्षा दिलाने में असमर्थ हैं ऐसे लोगो को समाज की तरफ से योगदान (मदद) मिलना चाहिए, ताकि अपने बच्चों को पढ़ा सके।
(4)समाज के अन्दर समयानुसार कुरीति रिवाज में भी बदलाव जरुरी है,,पहले जैसा समय अब नहीं है।। कृपया इनके ऊपर ध्यान दें।
(5)नेतागण:-जो भी मान्य नेता है, वह अपनी अपनी निजी विचारधारा के तहत पार्टी से जुड़े हुए हैं,, आप से आशा है की समाज के सामाजिक काम पर राजनीति नहीं करें सा।।

इतिहास संबंधित और समाज हित के मुद्दे।।

(6)राजस्थान की करीब करीब हर तहसील स्थर पर सरकार से देवासी समाज छात्रावास के लिए भूमि की मांग होनी चाहिए।
(7) एक अलग से.. सरकार से जमीन आंवटित करवाकर समाज का अलग से हड़मलजी का पैनौरमा बनाया जाए।जिसमे उनके योगदान का पूरा इतिहास हो, और समाज के सभी महापुरुष का भी इतिहास उसमे स्थापित करवाया जाए,, यह समाज के लिए गर्व का गौरवशाली विषय है।
(8)बीरमदेवरा मे रतनाजी का मंदिर बनाया गया है, अच्छी बात है। लेकिन वहाँ पर खाली दो जिलों का ही नाम दे रखा है,जबकि उगाई पूरे भारत से हुई है। वहाँ की कार्यकारिणी से विशेष निवेदन रहेगा की इस त्रुटि का सुधार करवाकर इसका पूरा नाम अखिल भारतीय राईका रैबारी देवासी )रखा जाए,,और जल्दी इस नाम से ही रजिस्टर्ड करवायें।
(9)छात्रों की 372 भर्ती वाला मामला काफी दिनों से रुका हुआ है, उसको बहाल करवाकर छात्रों को लाभ मिलना चाहिए।
(10)समाज के नेताओं से आग्रह है कि खरनाल पैनोरमा में आसूंजी राईका का इतिहास जोड़ा जाए।।
(11)अपने हक के आरक्षण को नौवी सूचि में जोड़ने की मांग को तेज करें।और जुड़वाये।।
(12)जोधपुर में आसूंरामजी की जायदाद समाज के नाम छोड़कर गये थे,, उन सभी जगहों का नाम “राईका समाज ” नाम से विख्यात होनी जरुरी है।

(13)सालूङी मंदिर परिसर में भी राईका समाज का इतिहास रहा है उसको भी वहाँ से नदारद किया गया है,,, उस विषय पर भी समाज की समितियाँ संज्ञान लेवें।

(13)गोगामेङी गोगाजी मंदिर मे भी हरदानजी राईका का गौरवशाली इतिहास रहा है,,अगर वहाँ पैनोरमा बना है तो उसमें भी इतिहास जुड़ना चाहिए।।
(14)जैतारण में जोधपुर रोड़ ब्रीज के पास चौराहा खाली है,,,वहाँ वीर हड़मलजी राईका की मूर्ति लगनी चाहिए।
(15)जिस शहर, तहसील में समाज की जगह नहीं है,,, वहाँ समाज की सभी अखिल भारतीय संस्थानों को मिलकर जगह लेनी चाहिए,,, ताकि भविष्य अच्छा हो।
(16)जो भी संस्था रजिस्टर्ड नहीं है,, उसको तुंरत रजिस्टर्ड करवाकर,,, ट्रस्ट बनें।।
(17)समाज की जितनी भी छोटी मोटी संस्थाए है,, वहाँ की सभी उगाई रसीद ,किताबों पर पंजीकृत नम्बर बेहद जरुरी है।
(18)इस 21वीं सदी के डिजिटल युग को नजरों में रखते हुए पूरी ओडिट के साथ सभी संस्थानों के बैंक खाते भी बेहद जरुरी है।
(19)आसुरामजी की जो मुर्ति बिना अनावरण किए लगी हुई है,,वह मूर्ति शहर के मुख्य प्रवेश द्वार रोड़ या कोई मुख्य चौराहा पर लगवानी थी लेकिन साईड मे लगी हुई है,,,छिपाकर! ऐसी जगह का कोई फायदा नहीं है। अगर जगह बदलना संभव है तो जगह बदलायी जाए।।
(20)समाज का आरोग्य भवन जोधपुर मे बनने जा रहा है,, सभी समाज बन्धु जनों से निवेदन है की ज्यादा से ज्यादा संख्या में सहयोग जरुर करें।।
(21)जोधपुर पावटा पुलिया का नाम… स्व. आसुरामजी राईका के नाम से घोषित होना चाहिए।
(22)राईका बाग बस अड्डा का नाम भी जांच करें…! कहीं वहाँ भी छेड़छाड़ तो नहीं हो रही है या हुई है।
(23)राईका बाग पैलेस ✔️जोधपुर का नाम ठीक करवाने हेतु संज्ञान लेवें,,,,, इतिहास बनाये रखें।।
(24)पूरे देश के अन्दर समाज की जितनी भी संस्थाएं है वहाँ सब जगह पर युवा कार्यकारीणी भी अलग से घोषित करनी चाहिए। ताकि बुजुर्गों के अगुवाई में युवा को मार्गदर्शन मिलें भविष्य के लिए अच्छा है।

(25)आज का युग शिक्षा का है, शिक्षा क्षैत्र में जितनी हो सके मजबूती हासिल करें।
(26)समाज की संस्थानों में ज्यादातर बड़े मंदिर बनाने की बजाय भवन का और कमरों सहित अच्छा मजबूत निर्माण करवाया जाए,, यह समाजहित के लिए अच्छा रहेगा।
(27)समाज की एकता हो,और सभी मिलकर एक मजबूत ताकत के साथ आगे बढ़े।। यही समाज का भविष्य है।
(28)अगर मजबूत नेता बनना है तो सबसे पहले समाज में सही नीति के साथ अपने निजी स्वार्थ को त्यागकर सेवा दो,,और किसी भी पार्टी की सरकारों की योजनाओं का लाभ समाज तक पहुंचाओं। अन्य जातियाँ फायदा लेती है तो हम क्यों नहीं?

(29)पशु कल्याण बोर्ड हमारा हक है, इसका पूरा फायदा पशुपालकों मिलना चाहिए।
(30)ऊन विभाग की और से कितने पशुपालकों फायदा मिला/ मिलता है ?
(31)समाज में एक से बढ़कर अत्याचार, अपराध हुआ,,, एक भी परिवार को नेता लोगों नै न्याय दिलाकर फायदा नहीं पहुंचाया,,,एक भी घर बताओं,,,,जिसको न्याय मिला हो?न्याय के पक्ष में इतने मजबूती से खड़े हो जाओं की भलै ही पार्टी को त्यागना पड़े।। वोटबैंक बनाये रखने के लिए राजनीति करके नेताओं की गुलामी ना करें!
(32)मालधारी संगठन के अध्यक्ष कपूरजी ने आंदोलन करवाया,, जिसमे वसुंधराजी ने… सुनने मे आ रहा है कि,,, 9 जगह छात्रावास के लिए घोषणा की थी,,, जिसमें,, जयपुर, कोटा, सिरोही ही बनी,,, बाकी की 6 कहाँ गयी?
(33)समाज की जितनी भी मुख्य संस्था है,,, वहाँ का काम,, सच्चे समाजसेवी लोगों को ना देकर,,, राजनीति पार्टियों से विलोम करने वाले लोग,,, उन संस्थानों का नेतृत्व कर रहे है,,, यह सब सिस्टम बंद हो। निष्पक्ष सच्चे समाजसेवी आदमी को ही दायित्व दिया जाए।
(34)समाज को समस्त भारत के अंदर (अखिल भारतीय राईका, रैबारी, देवासी) इस एक ही सही पहचान दी जाए।। (✔️)
(35)समाज के महापुरुष स्वर्गीय भोपालरामजी की याद में,,, ऊँट का टोळा लगवाया था,,, उसको सही करके वापस खड़ा करवाया जाए।
(36)स्व.भोपालजी की भी प्रतिमा बनाकर जोधपुर के मुख्य सर्कल पर स्थापित करवानी चाहिए।
(37)समाज का सितारा,,युवाओं की आवाज,, स्व .भीकारामजी की याद में भी उनकी प्रतिमा स्थापित करने के मुख्य सर्कल पर जगह की मांग ✔️
(38) जोधपुर स्तिथ स्व. आसुजी राईका की मूर्ति का अभी तक अनावरण नही हुआ है। यह बहुत ही निंदनीय है। इस पर महाकुंभ संज्ञान लेवें सा।

समाज के लोगो की महानुभावों से अपिल

कृपया ध्यान देवें,,अगर ऐसा नहीं होता है,, तो आज की और आने वाली पीढी़यो के लिए यह मुशीबत बनकर उभरेगी,, में आज बड़े ही दुःख के साथ कह रहा हूँ,,
अपने धर्म और संस्कृति..इतिहास का दुरुपयोग नहीं होने दे।

महाकुंभ एक सामाजिक कार्यक्रम है ( dewasi mahakubh )

समाज के गणमान्य लोगों ने बताया है यह महाकुंभ एक समाज की दशा और दिशा को बदलने का कार्यक्रम है इसे राजनीतिक स्वरूप में नहीं दिखाया जा सकता,महाकुंभ हमारी एकता अखंडता और हमारे इतिहास को बचाने के लिए किया जा रहा हे

इस महाकुंभ के जरिए हम समाज की एकता और अखंडता का प्रदर्शन करेंगे और आने वाले समय में विधानसभा के चुनाव में समाज की मांगों को सरकार से मांग करेंगे

इसी प्रकार से समाज और देश से जुड़ी खबरें देखने के लिए हमारे वेबसाइट tellybharat.com को फॉलो करें और इस पोस्ट को आपके दोस्तों और समाज के ग्रुप में शेयर करें

पोस्ट – Karan Dewasi | Telly Bharat

Share this content:

9 comments

comments user
Kehara Ram Dewasi

Bahut hi Shandar 😍🙏

comments user
Mahendra dewasi

देवासी समाज महाकुंभ

comments user
Naresh raika Gadhwala

अति उत्तम

comments user
Gajendra saran jaat

Good

comments user
सुरेश राईका डेगाना नागौर

काचा कोनी कौल का, सांचा रण में सूर।
खांचा कर दे खाग सूं, वाचा पण भरपूर।।

मुरधर रा मानो मुगट, परतख पाळै प्रीत।
सोरी नीं आवै समझ, राईका री रीत ।।
पागी पाकिस्तान मं, खोज लिया खुर खोड़।
खबर लई जा कच्छ सूं, रैबारी रणछोड़।।
ॐ नमः शिवाय
जय श्री मां पार्वती जी
जय श्री जेतेश्वर जी महाराज
जय श्री हरमल जी महाराज
जय श्री रतना जी महाराज
जय श्री पाबू जी महाराज
जय श्री रूपलाजी जी

comments user
मंगलाराम देवासी बीजापुर

बहुत सुंदर करन जी

comments user
Mahendra

Good pahal

comments user
Sangram dewasi

अति उत्तम कार्य

comments user
Tejaram rabari

जय हो देवासी वीरों री

Post Comment